Promotion
Khamoshi ka haasil bhi – Gulzar No ratings yet.
Book Of The Day

ख़ामोशी का हासिल भी इक लम्बी सी ख़ामोशी थी, 
उन की बात सुनी भी हम ने अपनी बात सुनाई भी! 

……. गुलज़ार

Please rate this

Leave a Reply