Promotion
Safar ki had hai wanha tak ki 5/5 (1)

सफ़र की हद है वहां तक की कुछ निशान रहे,
चले चलो की जहाँ तक ये आसमान  रहे…!!

…………. राहत इंदौरी

Please rate this

Leave a Reply