Image result for mirza ghalib images

इश्क़ पर ज़ोर नहीं , यह वह आतिश है ग़ालिब , कि लगाये ना लगे और बुझाए ना बुझाय

Image result for mirza ghalib images  

हाथों की लकीरों पे मत जा ग़ालिब, नसीब उन के भी होते हैं जिन के हाथ नहीं होते

Related image  

इश्क़ नेग़ालिब ‘, निकम्मा कर दिया, वरना हम भी आदमी थे , काम के

Image result for mirza ghalib images

हमको मालूम है जन्नत की हकीकत लेकिन , दिल के खुश रखने को , ग़ालिब यह ख़याल अच्छा है

Image result for mirza ghalib images

क़ासिद के आते -आते खत एक और लिख रखूँ मैं जानता हूँ जो वह लिखेंगे जवाब में

Image result for mirza ghalib images

ज़िन्दगी उसकी जिस की मौत पे ज़माना अफ़सोस करे , “ग़ालिब” , यूं तो हर शख्स आता है इस दुनिया में मरने के लिए

Image result for mirza ghalib images

मुझ तक कब उनकी बज़्म में, आता था दौर--जाम, साकी ने कुछ मिला ना दिया हो शराब में

Image result for mirza ghalib images

कब से हूँ क्या बताऊँ, जहान--खराब में, शब हाये हिज्र को भी रखूं गर हिसाब में

Image result for mirza ghalib images

हम ने मोहब्बत के नशे में कर उसे खुदा बना डाला , होश तब आया जब उस ने कहा कि खुदा किसी एक का नहीं होता !

Image result for mirza ghalib images  

तू वो ज़ालिम है जो दिल में रह कर भी मेरा बन सकाग़ालिब ”, और दिल वो काफिर जो मुझ में रह कर भी तेरा हो गया

Image result for mirza ghalib images

ता-फिर ना इंतज़ार में नींद आये उम्र भर, आने का अहद कर गये, आये जो ख्वाब में

  Best facebook page for shayari Best two line shayari' >
Promotion
top and most loved shayari from Mirza Ghalib 5/5 (1)
top and most loved shayari from Mirza Ghalib

top and most loved shayari from Mirza Ghalib.

Mirza ghalib has been most popular and loved writer across ages around the world.He has written many ghazal and nazms,here we have brought you out some of his famous and loved 2 liners.You might seen these two liners being used in Bollywood as well to make scripts more meaningful.please provide your review and comments on below shayari and provide your valuable feedback.We will keep bringing you the best shayaries of eminent writers.

Image result for mirza ghalib images

इश्क़ पर ज़ोर नहीं , यह वह आतिश है ग़ालिब ,
कि लगाये ना लगे और बुझाए ना बुझाय

Image result for mirza ghalib images

 

हाथों की लकीरों पे मत जा ग़ालिब,
नसीब उन के भी होते हैं जिन के हाथ नहीं होते

Related image

 

इश्क़ नेग़ालिब ‘, निकम्मा कर दिया,
वरना हम भी आदमी थे , काम के

Image result for mirza ghalib images

हमको मालूम है जन्नत की हकीकत लेकिन ,
दिल के खुश रखने को , ग़ालिब यह ख़याल अच्छा है

Image result for mirza ghalib images

क़ासिद के आतेआते खत एक और लिख रखूँ
मैं जानता हूँ जो वह लिखेंगे जवाब में

Image result for mirza ghalib images

ज़िन्दगी उसकी जिस की मौत पे ज़माना अफ़सोस करे , “ग़ालिब” ,
यूं तो हर शख्स आता है इस दुनिया में मरने के लिए

Image result for mirza ghalib images

मुझ तक कब उनकी बज़्म में, आता था दौरजाम,
साकी ने कुछ मिला ना दिया हो शराब में

Image result for mirza ghalib images

कब से हूँ क्या बताऊँ, जहानखराब में,
शब हाये हिज्र को भी रखूं गर हिसाब में

Image result for mirza ghalib images

हम ने मोहब्बत के नशे में कर उसे खुदा बना डाला ,
होश तब आया जब उस ने कहा कि खुदा किसी एक का नहीं होता !

Image result for mirza ghalib images

 

तू वो ज़ालिम है जो दिल में रह कर भी मेरा बन सकाग़ालिब ”,
और दिल वो काफिर जो मुझ में रह कर भी तेरा हो गया

Image result for mirza ghalib images

ताफिर ना इंतज़ार में नींद आये उम्र भर,
आने का अहद कर गये, आये जो ख्वाब में

 

Best facebook page for shayari

Best two line shayari

Please rate this

Leave a Reply