Promotion
Najdeek itne aakar mere – Tara Pandey No ratings yet.

नज़दीक इतने आकर मेरे
दूर मुझसे चले गए, 
जैसे मेरे रूह में उतर कर
मेरी ही परछाई बन गए! 

…… तारा पांडेय “मुक्तांशा”

Please rate this

Leave a Reply